अगर पनीर खाते है तो जानिए कैसे लाभकारी है सेहत के लिए

समाचार

घर में अगर पनीर की सब्‍जी बनी हो तो वह झट से खतम हो जाती है। पनीर की बात ही कुछ और होती है जिसे जो एक बार खाए वह बार बार खाता है। पनीर को ज्‍यादातर वो लोग पसंद करते हैं जो नॉन वेज नहीं खाते। पनीर का सेवन पालक पनीर या मटर पनीर की स्‍वादिष्‍ट सब्‍जी के रूप में किया जाना लोगों को ज्‍यादा भाता है।

स्‍वस्‍थ्‍य के लिये पनीर अच्‍छी होती है क्‍योंकि इसमें ढेर सारा प्रोटीन, कैल्‍शियम, मैग्‍नीशियम, पोटेशियम, फास्‍फोरस, जिंक और सेलेनियम होता हे। अगर वजन कम करना है तो आपको इसे अपने नियमित डाइट में शामिल करना चाहिये। स्‍वस्‍थ दिल के लिये पनीर काफी हेल्‍दी होती है। 100 ग्राम पनीर में 1.7g जमा फैट और 17mg कोलेस्‍ट्रॉल होता है।

पनीर का सबसे बेहतरीन लाभ है कि यह आपकी हड्ड‍ियों और दांतों को मजबूत बनाता है साथ ही कैल्श‍ियम और फास्फोरस का एक बढ़िया स्त्रोत भी है। रोजाना पनीर का सेवन हड्डयिों की समस्या, जोड़ों में दर्द और दांत के रोगों से बचाए रखने में बेहद मददगार है।

पाचन और पाचन तंत्र के लिए मेटाबॉलिज्म का रोल बहुत महत्वपूर्ण है। पनीर में अत्यधिक मात्रा में डायट्री फाइबर होते हैं जो भोजन के पाचन में बेहद मददगार साबित होता है। यह पाचन तंत्र के सुचारू रूप से चलने के लिए बेहद फायदेमंद और महत्वपूर्ण है।

ओमेगा 3 से भरपूर पनीर डाइबिटीज से भी बेहद प्रभावी तरीके से लड़ता है। विशेषज्ञ डॉक्टरों का कहना है कि वे भी अपने डाइबिटीज रोगियों को रोजाना पनीर को डाइट में शामिल करने की सलाह देते हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है, कि पनीर दोनों टाइप के डाइबिटीज के लिए प्रभावी साबित होता है।

दूध से बनने के कारण पनीर में भी दूध के गुणों का भंडार है, जिनमें ऊर्जा का स्त्रोत भी शामिल है। शरीर में तुरंत ऊर्जा के लिए पनीर का सेवन फायदेमंद है। बॉडी ट्रेनिंग करने वालों के लिए यह और भी फायदेमंद है।

पनीर को रोज खाने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढती है और हमारी पाचन शक्‍ती अच्‍छी बनती है। पनीर में ढेर सारा फॉस्‍फोरस और फाइबर होता है जो कि कमजोर पाचन को मजबूत करता है। इससे पेट हमेशा ठीक रहता है।

पनीर में ढेर सारा B-complex Vitamins होता है जो कि शरीर को कई काम करने में मदद करता है। B-complex Vitamins में आपको thiamine, niacin, folate, riboflavin and pantothenic एसिड मिलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *