यह सदी भारत की होगी – जेफ बेजोस क्यूँ कहा ऐसा

समाचार

करीब 8.30 लाख करोड़ रुपए की नेटवर्थ वाले दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति जेफ बेजोस भारत दौरे पर हैं। अमेजन के फाउंडर और सीईओ बेजोस ने बुधवार को दिल्ली में छोटे-मध्यम कारोबारियों के लिए आयोजित कार्यक्रम ‘अमेजन संभव’ में भारत को लेकर दो घोषणाएं कीं।

उन्होंने कहा- ‘अमेजन 2025 तक 10 अरब डॉलर (71 हजार करोड़ रुपए) मूल्य के मेक इन इंडिया प्रोडक्ट्स एक्सपोर्ट करेगी। इसके साथ ही भारत में एक करोड़ छोटे और मध्यम कारोबारों को डिजिटाइज करने के लिए एक अरब डॉलर (7,100 करोड़ रुपए) का निवेश किया जाएगा, ताकि ग्राहकों तक उनकी पहुंच और बढ़ सके।’ बेजोस ने इस घोषणा की वजह भी बताई। उन्होंने कहा कि अमेजन भी किसी समय छोटा बिजनेस था।

डिजिटाइजेशन की योजना के तहत अमेजन भारत के अलग-अलग शहरों और गांवों में 100 डिजिटल हाट स्थापित करेगी। ये हाट छोटे-मध्यम कारोबारियों को ई-कॉमर्स ऑनब्रांडिंग, इमेजिंग-कैटलॉगिंग, वेयरहाउस स्पेस, लॉजिस्टिक्स और डिजिटल मार्केटिंग जैसी सेवाएं देंगे। अमेजन के मुताबिक उसके भारतीय प्लेटफॉर्म पर 5.5 लाख विक्रेता रजिस्टर्ड हैं। 60 हजार से ज्यादा स्थानीय निर्माता और ब्रांड अमेजन के जरिए दुनियाभर में मेक इन इंडिया प्रोडक्ट एक्सपोर्ट कर रहे हैं।

‘भारत का जोश, ऊर्जा और यहां के लोग विशेष हैं, यहां लोकतंत्र है। यह सदी भारत की होगी। 21वीं सदी में भारत-अमेरिका का गठबंधन सबसे अहम होगा। बेजोस ने जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर कहा- जो भी इसके दुष्प्रभावों को नहीं समझ रहा वह गलती कर रहा है। पिछले 10-20 सालों में जलवायु परिवर्तन के असर की हकीकत को समझने में लोगों ने गंभीरता नहीं दिखाई। इस मुद्दे पर दुनियाभर के लोगों को साथ आने की जरूरत है। अमेजन 2030 तक 100% स्थायी बिजली (सस्टेनेबल इलेक्ट्रिसिटी) का इस्तेमाल करने लगेगी। हाल ही में हमने 1 लाख इलेक्ट्रिक डिलीवरी वाहन खरीदने का फैसला किया। जून तक हम प्लास्टिक का इस्तेमाल भी बंद कर देंगे।’

दूसरी ओर कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के बैनर तले व्यापारी दिल्ली समेत कई शहरों में बेजोस का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि अमेजन की बहुत ज्यादा डिस्काउंट की नीति की वजह से उनका कारोबार प्रभावित हो रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा है कि बेजोस से मिलने से पहले हमारे मुद्दों के बारे में जान लें।

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनियों अमेजन और फ्लिपकार्ट के खिलाफ जांच का आदेश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *